Friday, April 12, 2013

Alok Nath (Jha) : Interview With a Great Maithil Actor in Bollywood



हिंदी फिल्‍म जगत क सदाबहार चरित्र अभिनेता आलोक नाथ आइ बिहार स पूर्णत: कटि चुकल छथि। 10 जुलाई 1956 में जन्‍मल आलोकनाथ क नैनपन दिल्‍ली आ जीवन मुंबई मे गुजरल। बिहार क खगडिया जिलाक मूल निवासी सिनेमा आ टेलीविजन क एहि प्रसिद्ध कलाकार स बिहार सहित आन विषय पर समदिया सुनील कुमार झा आ नीलू कुमारी टेलीफोन पर लंबा चर्च केलथि। प्रस्‍तुत अछि ओकर किछु अंश:-

सुनील : जी, नमस्कार
आलोक नाथ : नमस्‍कार, कहल जाए।

सुनील : सर, गप मैथिली मे कैल जाए या हिंदी मे?
आलोक नाथ : देखू मैथिली त हमरा नहि अबैत अछि, ताहि लेल हिंदी उचित रहत।

सुनील : ठीक अछि। आइ अहां चरित्र अभिनेताक शीर्ष पर छी, मुदा एहि यात्राक शुरुआत कोना भेल?
आलोक नाथ हमर फिल्‍मी यात्राक शुरुआत एकटा छोटसन रोल स भेल। हमर पहिल फिल्म गाँधी अछि जे 1982 मे बनल छल, रिचर्ड साहब एकरा निर्देशित केने छलाह। एहि मे हमर एकटा छोट सन भूमिका छल तैयब मोहम्मद क। इ फिल्म गाँधी क साउथ अफ्रीका मे बिताउल गेल जीवन क उपर छल। ओना हमरा पहिल फिल्‍म फीचर फिल्‍म मशाल छी।

सुनील : अहां सिनेमाक संग संग टेलीविजन पर सेहो बहुत सक्रिय आ लोकप्रिय  छी , छोट परदाक यात्रा केना आ कहिया शुरू भेल?
आलोक नाथ : हमर पहिल टीवी सीरियल रिश्ते नाते (1980) में आयल छल, मुदा 1987 मे बुनियाद स पहचान भेटल।

सुनील : कोनो खास रोल जे अहां कए पसंद रहल?
आलोक नाथ : रोल त सबटा पसंद अछि, बिना पसंद कए रोल करिते नहि छी। हां, कयामत से कयामत तक, मैंने प्यार किया, हम साथ साथ हैं, विवाह आदि में हमर अभिनय कए लोक बेसी पसंद केलक।

सुनील : अहांक अगिला फिल्‍म हम सब कौन देखब?
आलोक नाथ : बहुत में काज कए रहल छी, मुदा द वेडिंग गिफ्ट, हाय मम्मी हाय डैडी जल्‍द आउत।

सुनील : किछु निजी सवाल, अहांक घर मे केके छथि?
आलोक नाथ : हमर परिवार कोनो विशेष नहि अछि। सामान्‍य परिवार अछि। हम, हमर बच्‍चा आ हमर माँ छथि।

सुनील : सर, सुनबा मे आयल अछि जे अहां बिहार स छी ?
आलोक नाथ: अरे भाई इ के कहि देलक अहां कए जे हम बिहार स छी, हमर नैनपन दिल्‍ली आ जीवन मुंबई मे गुजरि रहल अछि।

सुनील : सर, मुदा एहि स इ साबित नहि भ रहल अछि जे अहांक संबंध बिहार स नहि अछि।
आलोक नाथ : अहांक सूचना पूरा गलत नहि अछि, दरअसल हम बिहार स नहि छी, हमर पूर्वज बिहार स छथि। हमरा बिहारी कहब गलत होएत। हम अपना कए बिहार स कोना जोडि सकैत छी। हम ओहि ठाम स पूरा कटि चुकल छी।

सुनील : त अहांक बिहार स कोनो संबंध नहि अछि।
आलोक नाथ : हम इ कोना कहि सकैत छी। हमर सासुर बिहार क आरा जिला में अछि। हमर ससुर एसएन सिंह पटना में रहैत छथि।

सुनील : अहां अपन नाम संग सरनेम झा नहि लगबैत छी।
आलोक नाथ : ओह, त इ सेहो पता अछि जे हम झा छी, सरनेम नहि राखब कोनो अपराध। अगर सरनेम नहि लगबैत छी त ककरो की परेशानी।

सुनील : सर, अहां कए मैथिली नहि अबैत अछि, मुदा बिहार क दोसर रीजनल लेंग्वेज त अबैत होएत जेना भोजपुरी।
आलोक नाथ : नहि, हम भाषाक मामले मे बेसी धनी नहि छी।

सुनील : बिहार आ बिहारीक प्रति इ बेरूखी किया?
आलोक नाथ : एहन कोनो गप नहि अछि। हमरा बिहार पसंद अछि, हम भगवान् स दुआ करैत छी जे अगिला जन्‍म बिहार मे ली।

सुनील :मैथिली फिल्‍म मे काज करबाक प्रस्‍ताव भेटत त अहां स्‍वीकार करब?
आलोक नाथ : निश्चित, एकटा कलाकार छी, अभिनय करब हमर काज अछि।

सुनील : इसमाद लेल अपन कीमती समय देलहुं, ताहि लेल बहुत बहुत धन्यवाद
आलोक नाथ : धन्‍यवाद।
साभार- इसमाद

1 comment:

  1. mahan bibhuti bihar hamar mithila ka shree Alok Natha Jha .

    ReplyDelete